Bodhi News & Analysis - 02 Mar.

Ideal for Professionals, all Govt. exams, MBA ent. tests, GD-PI, school students

http://saar.bodhibooster.com, www.BodhiBooster.com, http://news.bodhibooster.com


Welcome to Bodhi News for 02 March, 2017 - from Bodhi Booster knowledge portal!


Bodhi Saar (Video) | बोधि सार (विडियो)







Highlights | मुख्य समाचार

  • [message]
    •  Highlights for 02-03-2017
        • 1. Indian economy – PM Modi, in an election rally, took a dig at “Harvard” trained economist and Nobel-laureate Amartya Sen, who has been vocally critical of PM’s demonetization move. Modi said “hard work” is more important than “Harvard”, referring to the latest CSO data on Q3 GDP numbers.
          2. Defence and military – The Prime Minister has congratulated the DRDO for successfully testing (yet again) an interceptor missile to destroy incoming hostile ballistic missiles. This is part of India’s own Ballistic Missile Defence (BMD) system. Read more on it here.
          3. World politics – The US President Donald Trump gave a muted, toned-down but lengthy speech to the US Congress, which was praised by a majority of people who watched it. This was a break from the long running and bellicose attack by him on anyone against his perspectives.
          4. People and personalities – The prison officials in Karnataka have clarified that they are not providing VIP facilities to Ms Sasikala, lodged in a jail there. No airconditioner is being provided, nor is there any application for her transfer to Tamil Nadu.
          5. Indian economy – In a sharply worded letter to the TRAI (Telecom Regulatory Authority of India), the Telecom Secretary JS Deepak has questioned the promotional tariffs offered by telcos (notably Reliance Jio) which have resulted in losses of up to Rs 800 crore in revenues for the government, and has requested the regulator to 'review' such tariff offers.
          6. People and personalities – The CEO of Uber is courting controversies one after the other. In a leaked video from a Uber taxi dashboard, a driver has complained that his argument with the CEO (travelling in that taxi) over reduced pay for drivers shows how insensitive the company had become. Travis Kalanick was apologetic about it.
          7. Corporates, products, services – The Indian I.T. companies are breathing a bit easy now given the new announcements by the US administration of using a “merit score” based entry system for immigrants. Indians should do well on that. The H1B visa row had the companies worried sick. Read our Bodhi on “Arrival of Donald Trump” here.
          8. Science and technology – Microfossils from the Hudson Bay shoreline (Quebec, Canada) up to almost 4.3 billion years old found in Canada of microbes are similar to sea floor bacteria around hydrothermal vents. They may be the oldest-known evidence of life on Earth. The hypothesis that hydrothermal vents spewing hot water may have been the cradle of life on Earth relatively soon after its formation may be true. Read more on life on Earth, here
          9. Science and technology – The ISRO has said that it may launch the second moon mission – Chandrayaan 2 – in the first quarter of 2018 itself. The space agency made a world record in February by simultaneously launching 104 satellites. Read our ISRO Bodhi here.
          10. Regional politics – After the murder by poisonous needle of the half-brother of North Korea’s dictatorial leader Kim Jong-un at a Malaysian airport, authorities have decided to stop issuing visa-free entry to North Koreans.
          For Running Updates on Important Themes, go here

        • 1. भारतीय अर्थव्यवस्था - अपने एक चुनावी भाषण के दौरान प्रधामनंत्री मोदी ने हार्वर्ड विश्वविद्यालय से प्रशिक्षित अर्थशास्त्रियों और नोबेल पुरस्कार विजेता अमर्त्य सेन, जो प्रधानमंत्री मोदी के विमुद्रीकरण के फैसले के मुखर आलोचक रहे हैं, पर चुटकी ली। केंद्रीय सांख्यिकीय कार्यालय द्वारा जारी किये गए तीसरी तिमाही के जीडीपी संबंधी आंकड़ों का संदर्भ देते हुए मोदी ने कहा कि “कठोर परिश्रम” (हार्ड वर्क) “हार्वर्ड” से अधिक महत्वपूर्ण है।
          2. रक्षा एवं सैन्य - शत्रु की बैलिस्टिक मिसाइलों को नष्ट करने वाली अवरोधक मिसाइल के सफलतापूर्वक परीक्षण (एक बार फिर से) के लिए प्रधानमंत्री ने रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) का अभिनन्दन किया है। यह भारत की अपनी बैलिस्टिक मिसाइल रक्षा (बीएमडी) प्रणाली का हिस्सा है। इसपर अधिक जानकारी यहाँ पढ़ें।
          3. विश्व राजनीति - अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प ने अमेरिकी कांग्रेस के समक्ष एक कम नाराज सुर में, परंतु लंबा भाषण दिया, जिसकी देखने और सुनने वाले अधिकांश लोगों ने प्रशंसा की। यह उनकी मान्यताओं का विरोध करने वाले सभी के विरुद्ध उनके लंबे समय से जारी और आक्रामक रवैये से कुछ हद तक हटकर था।
          4. व्यक्ति और व्यक्तित्व - कर्नाटक के जेल अधिकारियों ने स्पष्ट किया है कि वे सुश्री शशिकला, जो वहां जेल में बंद हैं, को विशेष और महत्वपूर्ण व्यक्तियों को प्रदान की जाने वाली कोई सुविधाएँ प्रदान नहीं कर रहे हैं। उन्हें कोई वातानुकूलक (एयर कंडीशनर) प्रदान नहीं किया गया है, और न ही उन्हें तमिलनाडु स्थानांतरित करने के संबंध में कोई आवेदन आया है।
          5. भारतीय अर्थव्यवस्था - ट्राई (भारतीय दूर संचार प्राधिकरण) को कठोर शब्दों में लिखे गए एक पत्र में दूर संचार सचिव जे.एस. दीपक ने दूर संचार कंपनियों (विशेष रूप से रिलायंस जियो) द्वारा निर्गम किये जाने वाले प्रचार स्वरुप शुल्कों पर सवाल उठाए हैं, जिसके कारण सरकार को 800 करोड़ रुपये तक की राजस्व हानि हुई है, और उन्होंने नियामक से अनुरोध किया है कि वे इस प्रकार के निर्गमन की फिर से “समीक्षा” करें।
          6. व्यक्ति और व्यक्तित्व - उबर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एक के बाद एक विवादों सामना कर रहे हैं। एक उबर टैक्सी से उजागर हुए विडियो में एक वाहन चालक ने शिकायत की है कि मुख्य कार्यकारी अधिकारी (जो उस टैक्सी में यात्रा कर रहे थे) के साथ वाहन चालकों के वेतन में की गई कटौती पर हुई उसकी बहस दर्शाती है कि कंपनी कितनी असंवेदनशील हो गई है। ट्रेविस कलनिक ने इसपर खेद व्यक्त किया है।
          7. निगम, उत्पाद, सेवाएँ - जब से अमेरिकी प्रशानन ने प्रव्रजन के संबंध में “योग्यता आधारित प्राप्तांक” का उपयोग करने की घोषणा की है तब से भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी कंपनियां अब अधिक आराम से साँस ले पा रही हैं। इस दृष्टि से भारतीय प्रवासियों का प्रदर्शन काफी अच्छा रहेगा। एच 1बी वीजा पर उठे विवाद ने कंपनियों को चिंतित और लगभग बीमार कर दिया था। “डॉनल्ड ट्रम्प का आगमन” पर हमारी बोधि यहाँ पढ़ें।
          8. विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी - कनाडा में पाए गए लगभग 4.3 अरब वर्ष पुराने सूक्ष्म जीवों के हडसन बे तटरेखा से प्राप्त सूक्ष्म जीवाश्म समुद्र तल के आसपास के जलतापीय छिद्रों के बैक्टीरिया के समान हैं। ये पृथ्वी पर जीवन के प्राचीनतम ज्ञात साक्ष्य हो सकते हैं। यह परिकल्पना कि गर्म पानी का उत्सर्जन करने वाले जलतापीय छिद्र संभवतः प्रथ्वी पर जीवन के उस समय के साक्ष्य हों जब पृथ्वी के निर्माण की प्रक्रिया शुरू हुई थी, सही हो सकते हैं। पृथ्वी पर जीवन के बारे में अधिक पढ़ें यहां।
          9. विज्ञान एवं प्रौद्योगकी - भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने कहा है कि वह अपना दूसरा चंद्र अभियान - चंद्रयान 2 - वर्ष 2018 की पहली तिमाही में ही शुरू कर सकता है। इस अंतरिक्ष अभिकरण ने फरवरी 2017 में एकसाथ 104 उपग्रहों का प्रक्षेपण करके विश्व कीर्तिमान स्थापित किया था। इसरो पर हमारी बोधि यहाँ पढ़ें।
          10. क्षेत्रीय राजनीति - उत्तर कोरिया के तानाशाह शासक किम जोंग-उन के सौतेले भाई की मलेशिया के हवाई अड्डे पर विषाक्त सुई से की गई हत्या के बाद अधिकारियों ने उत्तर कोरयाई नागरिकों के लिए वीजा मुक्त प्रवेश बंद करने का निर्णय लिया है।

          महत्वपूर्ण विषयों पर लगातार अद्यतन हेतु, यहाँ जाएँ

          [ ##thumbs-o-up##  Share Testimonial here - make our day!]     [ ##certificate##  Volunteer for Bodhi Booster portal] 


Day Facts | आज के तथ्य


  • [message]
    • Day Facts for 02-03-2017 -  SCIENCE AND TECHNOLOGY – Indian Missile Defence Systems
        • 1. A missile defence shield is designed to counter various types of ballistic missiles – (a) Range-wise (short, medium, intermediate and long), (b) Speed-wise, (c) Size-wise and (d) Performance-wise.
          2. A typical well-designed Missile Defense System should be an integrated, layered architecture providing multiple opportunities to destroy missiles and their warheads before they reach their programmed targets. Hence, the core components would be (1) Networked sensors and Radars (ground/sea-based) for target detection and tracking, (2) Interceptor missiles (ground/sea-based) to destroy the incoming missile, (3) Command and control centre to help the operational commanders.
          3. India’s indigenous missile defence shield owes its origin to the threat perception from China and Pakistan. While Pakistan has short and medium-range missiles, with a capability to hit major targets in India, the Chinese have a big arsenal of solid-fuelled missiles, a potent threat to India. Chinese intermediate range ballistic missiles (IRBM) and medium-range ballistic missiles (MRBM) can reach India’s farthest corners.  Read more on Indian Missiles, here
          4. Although the Akash and Trishul missile projects were part of the Integrated Guided Missile Development Programme (IGMDP) launched in 1983, clear plans to construct a missile defence shield seemingly began in the 1990s, after reports of Pakistan’s deployment of Chinese missiles. India has since pursued various options.
          5. Responding to Pakistan’s purchase of the M-9 and M-11 ballistic missiles from China, India bought six batteries of Russian S-300 surface-to-air missiles (SAMs) in August 1995 to protect major cities. (Currently, due to new US sanctions on Russia, this purchase is facing problems). Also, in all only five nations in the world have a BMD – US, Russia, Israel, China and now India.
          6. India's air defence network is made up of (1) Air Defence Ground Environment System (ADGES), and (2) Base Air Defence Zones (BADZ). The ADGES network gives a wide area radar coverage and detects most aerial incursions into Indian airspace, while the BADZ system is concentrated with radars, interceptors, SAMs (surface to air missiles) and AAA (anti aircraft warfare) units to provide an effective defensive barrier to attacks.
          7. India’s BMD is a double-tiered system made up of two land and sea-based interceptor missiles – (1) the Prithvi Air Defence (PAD) missile for high altitude interception (exo-atmospheric), and (2) the Advanced Air Defence (AAD) Missile for lower altitude interception (endo-atmospheric). This shield can intercept any incoming missile launched 5,000 kilometres away.   Read more on military developments worldwide, here
          8. On March 01, 2017, India successfully test-fired (for the second time in a month) the indigenously developed supersonic interceptor missile capable of destroying any incoming enemy ballistic missile at low altitude. The BMD system will protect India from the long-range ballistic missiles proliferating in our neighbourhood. DRDO (Defence Research and Development Organisation) expects to have shield ready for deployment by 2022.
          9. The Barak 8 (Hebrew word : Lightning), an Indian-Israeli surface-to-air missile (SAM) will defend against any type of airborne threat including aircraft, helicopters, anti-ship missiles, and UAVs as well as cruise missiles and combat jets out to a maximum range of 90 to 100. Indian Navy has received deliveries already.
          10. Serious challenges remain. Any BMD system can be overwhelmed by a flurry of ballistic missiles. A nuclear attack can be launched using deep-penetration strike aircrafts and BMD technology is useless there. BMD systems are vulnerable to cruise missiles as they fly at low altitudes. India’s endo-atmospheric system (AAD) may be able to tackle it to some extent. Do not miss our detailed Bodhi on “India’s defence preparedness”, here


        • 1. एक मिसाइल रक्षा कवच की रचना विभिन्न प्रकार की बैलिस्टिक मिसाइलों के अवरोध की दृष्टि से की जाती है - (ए) मारक-क्षमता के अनुसार (छोटी, मध्यम मध्यवर्ती और लंबी), (बी) गति के अनुसार, (सी) आकार के अनुसार, (डी) निष्पादन के अनुसार।
          2. एक व्यवस्थित रूप से रचित मिसाइल रक्षा प्रणाली एक एकीकृत, परतों वाली संरचना होनी चाहिए जो मिसाइलों और उनके हथियारों को गंतव्य निशाने पर पहुँचने से पहले नष्ट करने के बहुविध अवसर प्रदान करती हो। अतः इसके केंद्रीय घटक निम्न हो सकते हैं (1) लक्ष्य की खोज के लिए और उसका पता लगाने के लिए नेटवर्क किये गए संवेदक और राडार (सतह/समुद्र आधारित), (2) आने वाली मिसाइलों को नष्ट करने के लिए अवरोधक मिसाइलें (सतह/समुद्र आधारित), (3) परिचालानात्मक कमांडरों की सहायता के लिए आदेश और नियंत्रण केंद्र।
          3. भारत के स्वदेशी मिसाइल रक्षा कवच का उद्गम चीन और पाकिस्तान से होने वाले खतरे में है। जहाँ पाकिस्तान के पास छोटी और मध्यम मारक क्षमता वाली मिसाइलें हैं जिनकी भारत में किसी भी लक्ष्य पर निशाना लगाने की क्षमता है, वहीँ चीन के पास ठोस इंधन वाले बड़े मिसाइल अस्त्र हैं, जो भारत के लिए एक संभावित खतरा हैं। चीन की मध्यवर्ती दूरी की बैलिस्टिक मिसाइलें (आईआरबीएम) और मध्यम दूरी की बैलिस्टिक मिसाइलें (एमआरबीएम) भारत के सबसे दूर के कोनों तक पहुँच सकती हैं। भारतीय मिसाईलों पर अधिक जानकारी पढ़ें यहां।
          4. हालांकि आकाश और त्रिशूल मिसाइल परियोजनाएं वर्ष 1983 में शुरू किये गए एकीकृत नियंत्रित मिसाइल विकास कार्यक्रम (आई.जी.एम.डी.पी.) का हिस्सा थीं, एक मिसाइल रक्षा कवच के निर्माण की स्पष्ट योजना पाकिस्तान द्वारा चीनी मिसाइलों की तैनाती की खबरों के बाद प्रकट रूप से 1990 के दशक में शुरू हुई। उसके बाद से भारत ने अनेक विकल्पों का विचार किया है।
          5. पाकिस्तान द्वारा चीन से एम-9 और एम-11 बैलिस्टिक मिसाइलें खरीदने की प्रतिक्रिया के रूप में प्रमुख शहरों के संरक्षण के लिए भारत ने अगस्त 1995 में रूस से एस-300 सतह से हवा में मार करने में सक्षम मिसाइलों की छह खेपें खरीदीं (वर्तमान में रूस पर लगे नये प्रतिबंधों के कारण, इस खरीदी में समस्याऐं आ रही हैं)। इसके अलावा अभी केवल 5 देषों के पास बीएमडी (BMD) क्षमताऐं हैं - अमेरिका, रूस, ईजराईल, चीन और भारत।
          6. भारत का हवाई रक्षा संजाल निम्न से मिलकर बना है - (1) हवाई रक्षा सतही पर्यावरण प्रणाली (एडीजीईएस -ADGES), और (2) बेस हवाई रक्षा क्षेत्र (बीएडीजेड-BADZ) । एडीजीईए संजाल एक विस्तृत क्षेत्र राडार आवरण प्रदान करता है और भारतीय हवाई क्षेत्र में अतिक्रमण करने वाली अधिकांश मिसाइलों को खोज सकता है। जबकि बीएडीजेड प्रणाली राडारों, अवरोधकों, SAM (सतह से हवा में मार करने वाली) और एएए (वायु यान रोधी युद्धकला) इकाइयों से संकेंद्रित होता है जो आक्रमणों के विरुद्ध एक प्रभावी बाधा प्रदान करता है।
          7. भारत का बीएमडी एक द्वि-स्तरीय प्रणाली है जो दो सतही और समुद्र आधारित अवरोधक मिसाइलों से मिलकर बना है - (1) पृथ्वी हवाई रक्षा (पीएडी - PAD) मिसाइल, जो उच्च ऊँचाई अवरोधन के लिए है, और (2) उन्नत हवाई रक्षा (एएडी - AAD) मिसाइल, जो कम ऊंचाई के अवरोधन के लिए है (अंतः वायुमंडलीय)। यह मिसाइल कवच 5000 किलोमीटर तक की दूरी से प्रक्षेपित किसी भी मिसाइल को अवरुद्ध कर सकता है। विश्व भर में हो रही सैन्य गतिविधियों पर पढ़ें यहां।
          8. 1 मार्च 2017 को भारत ने स्वदेशी विकसित पराध्वनिक अवरोधक मिसाइल का सफलतापूर्वक परीक्षण प्रक्षेपण किया (एक महीने में दूसरी बार) जो भारत की ओर न्यून ऊंचाई से प्रक्षेपित शत्रु की किसी भी बैलिस्टिक मिसाइल को नष्ट करने में सक्षम है। बीएमडी प्रणाली हमारे पड़ोस में बड़ी संख्या में पैदा होने वाली लंबी दूरी की बैलिस्टिक मिसाइल से रक्षा करेगी। डीआरडीओ (रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन) को उम्मीद है कि वह वर्ष 2022 तक तैनात करने के लिए रक्षा कवच तैयार कर लेगा।
          9. बराक 8 (यहूदी शब्द - आकाशीय बिजली), जो एक भारतीय-इसरायली सतह से हवा में मार करने में सक्षम मिसाइल है, किसी भी प्रकार के हवाई खतरे, वायुयान, हेलीकाप्टर जहाज अवरोधक मिसाइल, और मानवरहित हवाई वाहन (यूएवी) साथ ही क्रूज मिसाइल और लड़ाकू जेट से अधिकतम दूरी 90 से 100 तक रक्षा प्रदान करेगा। भारतीय नौसेना को इसकी खेप पहले ही मिल चुकी है।
          10. गंभीर चुनौती अभी भी बनी हुई है। किसी भी बीएमडी प्रणाली को बैलिस्टिक मिसाइलों की भारी मात्रा में प्रक्षेपण करने से निष्प्रभावी किया जा सकता है। गहरी पैठ वाले आक्रमण विमानों का उपयोग करके परमाणु आक्रमण शुरू किया जा सकता है, वहां बीएमडी प्रौद्योगिकी वहां अनुपयोगी साबित होगी। बीएमडी प्रणालियाँ क्रूज मिसाइल के विरुद्ध भेद्य है क्योंकि वे न्यून ऊंचाइयों पर उड़ती हैं। भारत की अंतःवायुमंडलीय प्रणाली (एएडी - AAD) कुछ हद तक इससे निपटने में सक्षम होगी। भारत की रक्षा तैयारी पर हमारी विस्तृत बोधि जरूर पढ़ें यहां।



          [ ##thumbs-o-up##  Share Testimonial here - make our day!]     [ ##certificate##  Volunteer for Bodhi Booster portal]

Read comprehensive Bodhis on crucial topics asked in examinations, here
ये सभी बोधियाँ हिंदी में समानांतर उपलब्ध हैं




Bodhi Shiksha | बोधि शिक्षा 

Welcome to the complete collection of all Open Videos of Bodhi Booster knowledge portal!
http://shiksha.bodhibooster.com, http://saar.bodhibooster.com


Bodhi Resources | बोधि संसाधन

Welcome to amazing downloadable and linked resources on Bodhi Resources
And don’t forget to also check English Learning resources on Bodhi Bhasha

www.BodhiBooster.com, http://hindi.bodhibooster.com, http://news.bodhibooster.com, http://bhasha.bodhibooster.com


Downloadable PDF here!  |  पीडीएफ डाउनलोड करें 











Name

Agriculture,3,Art Culture Literature,5,Bodhi News,84,Bodhi Saar,2,Bodhi Sameeksha,5,Celebrities,22,Climate change,3,Companies Products Services,37,Day Facts,82,Defence,32,Education,8,Energy,5,Governance,1,Happy New Year,1,History,2,Indian economy,42,Indian politics,35,Infrastructure,16,Law,35,Natural and other disasters,13,News Analysis,83,Personalities,2,Polity,2,Religion,5,Science and technology,14,Social issues,19,Sports,30,Terrorism,18,Trivia and miscellaneous,9,United Nations,6,World economy,10,World politics,32,World politics Terrorism,2,
ltr
item
Bodhi News: Bodhi News & Analysis - 02 Mar.
Bodhi News & Analysis - 02 Mar.
IPR in India, Patent Law of India, Menstrual cycle and taboos, Hans Rosling
https://1.bp.blogspot.com/-X3P00uMeHAA/WH46Nykf3DI/AAAAAAAAAO8/snRg5db2WCI-31mCPo190rbM0ZIzpq43gCLcB/s320/Bodhi%2BNews%2B-%2B5%2Bfeatures.jpg
https://1.bp.blogspot.com/-X3P00uMeHAA/WH46Nykf3DI/AAAAAAAAAO8/snRg5db2WCI-31mCPo190rbM0ZIzpq43gCLcB/s72-c/Bodhi%2BNews%2B-%2B5%2Bfeatures.jpg
Bodhi News
http://news.bodhibooster.com/2017/03/Bodhi-Saar-02-Mar-Civil-Services-MBA-CAT-govt.exams.html
http://news.bodhibooster.com/
http://news.bodhibooster.com/
http://news.bodhibooster.com/2017/03/Bodhi-Saar-02-Mar-Civil-Services-MBA-CAT-govt.exams.html
true
3053167486953779424
UTF-8
Loaded All Posts Not found any posts VIEW ALL Readmore Reply Cancel reply Delete By Home PAGES POSTS View All RECOMMENDED FOR YOU LABEL ARCHIVE SEARCH ALL POSTS Not found any post match with your request Back Home Sunday Monday Tuesday Wednesday Thursday Friday Saturday Sun Mon Tue Wed Thu Fri Sat January February March April May June July August September October November December Jan Feb Mar Apr May Jun Jul Aug Sep Oct Nov Dec just now 1 minute ago $$1$$ minutes ago 1 hour ago $$1$$ hours ago Yesterday $$1$$ days ago $$1$$ weeks ago more than 5 weeks ago Followers Follow TO GET PDF DOWNLOAD LINK... Please share to unlock Copy All Code Select All Code All codes were copied to your clipboard Can not copy the codes / texts, please press [CTRL]+[C] (or CMD+C with Mac) to copy